नई द‍िल्‍ली : अगर आप यह सोचते हैं कि जिम में पसीना बहाने से सिर्फ आपकी फिजिकल स्‍ट्रेंथ यानी कि शारीरिक शक्ति बढ़ती है तो आपको सोचने की जरूरत है. करीब पांच लाख लोगों पर की गई एक रिसर्च में खुलासा हुआ है कि शक्तिशाली लोग दिमागी कामकाज में बेहतर प्रदर्शन करते हैं.

इस रिसर्च को ‘सिजोफ्रेनिया बुलेटिन’ नाम की मैगजीन में पब्‍लिश किया गया है. रिसर्च में कहा गया है कि आपकी मांसपेशीय शक्ति भुजा की ताकत से आंकी जाती है, जो आपके स्वस्थ दिमाग का संकेत देता है.

ऑस्ट्रेलिया के वेस्टर्न सिडनी विश्वविद्यालय के एनआईसीएच स्वास्थ्य अनुसंधान संस्थान के शोध के सह-लेखक जोसेफ फिर्थ ने कहा, ‘हमारा शोध इस बात की पुष्टि करता है कि मजबूत लोग वास्तव में बेहतर कामकाजी दिमाग रखते हैं.’

ब्रिटेन के 475,397 प्रतिभागियों के आंकड़ों का उपयोग करते हुए इस नए शोध से पता चलता है कि औसत रूप से बलवान लोगों ने दिमागी कामकाज परीक्षणों में बेहतर प्रदर्शन किया. इन परीक्षणों में प्रतिक्रिया की गति, तर्क संबंधी समस्याओं का हल और स्मृति से जुड़े अलग-अगल तरह के प्रशिक्षण शामिल थे.

loading...