प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को कर्नाटक में चुनावी रैलियों को संबोधित किया. गुलबर्गा के बाद पीएम मोदी ने बेल्लारी में चुनावी सभा को संबोधित किया. प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस का आखिरी किला भी ध्वस्त होना तय है. PM मोदी ने कहा कि हमारी सरकार ने जो नए नोट छापे हैं, उसमें हमने थंपी के चित्र को छापा है जिससे विजयनगर साम्राज्य की गौरवता को दिखाया है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस ने बेल्लारी को बदनाम करने की पूरी कोशिश की है. देश और दुनिया में बेल्लारी को गलत तरीके से प्रचारित किया जा रहा है, जैसे कि यहां पर कोई चोर और लूटेरे रहते हैं. आपको बता दें कि प्रधानमंत्री ने अपने भाषण की शुरुआत कन्नड़ भाषा में ही की. उन्होंने कहा कि कर्नाटक में सीधा-रुपया सरकार है, इस रुपया सरकार ने कर्नाटक को कर्ज के बोझ में डुबा दिया है.

रैली में PM मोदी बोले कि कर्नाटक की जनता रुपया सरकार से पाई-पाई का हिसाब मांगती है. उन्होंने कहा कि रुपया सरकार के एक मंत्री पर खनन घोटाले का आरोप लगा, उन्हें जेल जाना पड़ा. फिर भी कांग्रेस ने उन्हें टिकट दिया. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने जो खर्च किया उसका ज्यादा फायदा बिचौलियों को ही दिया जा रहा है.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार में छोटे से छोटा काम रुपया देकर ही होता है, इसलिए इस सरकार का नाम रुपया सरकार पड़ा. कांग्रेस सरकार ने कर्नाटक में अवैध खनन को बढ़ावा दिया है. कॉल ब्लॉक की नीलामी के लिए कर्नाटक सरकार ने कोई नीति नहीं बनाई.

सोनिया पर किया वार

पीएम मोदी ने कहा कि बेल्लारी से जब मैडम सोनिया जी चुनाव लड़ी थीं, तो उन्होंने 3000 करोड़ रुपए के पैकेज की बात की थी. लेकिन बाद में सारी बातें हवा-हवाएं हो गईं. जब हमारी सरकार थी तो हमने बेल्लारी के लिए 2000 करोड़ रुपए का पैकेज लागू किया था. उन्होंने कहा कि कर्नाटक की सरकार अभी तक सोई हुई थी, लेकिन चुनाव आते ही अचानक नई-नई घोषणाएं कर दी.

loading...