हिंदी और दक्षिण की फिल्मों के मशहूर चरित्र अभिनेता प्रकाश राज ने आरोप लगाया है कि पीएम मोदी के खिलाफ बोलने की वजह से उन्हें फिल्में नहीं मिल रही हैं. एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा, जब से मैंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ बोलना शुरू किया, तब से बॉलीवुड में मुझे फिल्में नहीं मिली हैं. प्रकाश राज पिछले कुछ महीनों से नरेंद्र मोदी सरकार और भाजपा की राजनीति का कड़ा विरोध करते आए हैं.

प्रकाश ने द प्रिंट से कहा, पिछले साल अक्टूबर में पहली बार मैंने पीएम मोदी के खिलाफ बोला था और उसी के बाद बॉलीवुड ने मुझे दरकिनार कर दिया. साउथ में कोई समस्या नहीं है, लेकिन बॉलीवुड से मुझे ऑफर आना बंद हो गया है. हालांकि राज को इसकी चिंता नहीं है क्योंकि उनके पास पैसे की कमी नहीं है. मोदी पर प्रकाश के बयान उस वक्त चर्चा में आए थे, जब उन्होंने लेखक गौरी लंकेश की हत्या के बाद प्रधानमंत्री की चुप्पी पर सवाल उठाया था.

पिछले साल सितंबर में गौरी लंकेश को बंगलुरु में उनके घर के बाहर कुछ अज्ञात हमलावरों ने मार दिया था. मार्च में स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम ने इस केस में एक शख्स को गिरफ्तार किया था. ये मामला देश भर में चर्चा के केंद्र में था..

लंकेश और प्रकाश की दोस्ती बहुत पुरानी थी. उनकी मौत को लेकर प्रकाश ने कहा- गौरी की मौत ने मुझे बहुत डिस्टर्ब किया. वो सवाल पूछ रही थीं. जब उन्हें मार दिया गया तो मुझे अपराधबोध महसूस हुआ. क्या हमने उन्हें लड़ाई में अकेला छोड़ दिया था? मैं जितना सवाल पूछता हूं, उतना ही मुझे धमकी देकर या मेरा काम रुकवाकर चुप कराने की कोशिश की जाती है. ये बीजेपी ही कर रही है.

loading...